Today News

एमपी में अब सड़क पर टकराव / भाजपा मुख्यालय पर कार्यकर्ताओं से भिड़े कांग्रेस नेता, पथराव और हाथापाई भी हुई; धारा 144 लागू

Today News

भोपाल. विधानसभा, फिर सुप्रीम कोर्ट और अब सड़क। मध्य प्रदेश का सियासी टकराव बढ़ता जा रहा है। दिग्विजय सिंह और अन्य कांग्रेस नेताओं को बेंगलुरु में हिरासत में लिए जाने के खिलाफ भोपाल में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। पहले कार्यकर्ताओं ने राजभवन के सामने नारेबाजी की और इसके बाद वे भाजपा दफ्तर का घेराव करने पहुंचे। यहां भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई हुई और पथराव भी किया गया। इस दौरान कई कार्यकर्ताओं को चोट आई है।

इस टकराव के बाद पुलिस ने भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ताओं को वहां से हटाया। भाजपा कार्यालय पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इस घटना के बाद सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ता हबीबगंज थाने पहुंच गए। प्रशासन ने धारा 144 लागू कर दी है। सीएसपी भूपेंद्र सिंह हबीबगंज थाने पहुंचे और भाजपा के कार्यकर्ताओं से हाथ जोड़कर घर जाने की अपील की। इसमें घायल भाजपा कार्यकर्ताओं ने 50 से ज्यादा अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज करवाया है। भाजपा नेता आलोक संजर भी थाने पहुंचे। उन्होंने कहा- कांग्रेस बौखला चुकी है। हताशा की स्थिति में है। कांग्रेस के लोगों को धैर्य रखना चाहिए। इस तरह के हमले करने से कांग्रेस की स्थिति और बदतर हो जाएगी। हमले में भाजपा प्रवक्ता राहुल कोठारी समेत 5 से 6 कार्यकर्ता घायल हैं।

 

हमें इस हमले की सूचना पहले ही मिल गई थी- भाजपा
भाजपा प्रवक्ता राहुल कोठारी के हाथ में चोट आई है। उन्होंने कहा- हमें भाजपा कार्यालय पर हमले की सूचना पहले ही मिल गई थी। इसकी सूचना प्रशासन को भी दी। प्रशासन की मिलीभगत से कांग्रेस कार्यकर्ता कार्यालय पर आए और पथराव किया। यह सारा काम प्रशासन की मिलीभगत से हुआ है। इस कृत्य से भाजपा कार्यकर्ता रुकने वाले नहीं हैं। हम दमनकारी सरकार को हटाने का प्रण लेकर आगे बढ़ेंगे। बेंगलुरु में दिग्विजय और यहां उनके गुर्गे गुंडागर्दी कर रहे हैं।

बेंगलुरु में कांग्रेस नेताओं को हिरासत में लिए जाने के बाद प्रदर्शन

बेंगलुरु में बुधवार सुबह बागी विधायकों से मिलने गए दिग्विजय सिंह, कांतिलाल भूरिया समेत 10 कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था। इसके विरोध में कांग्रेस ने दोपहर में राजभवन तक मार्च निकाला और राज्यपाल को ज्ञापन सौंपकर बागी विधायकों को बंधक बनाए जाने का आरोप लगाया।

Follow Us On You Tube